सुषमा स्वराज जी के नक्शेकदम पर चलने का गर्व है : जयशंकर

गुरुवार को नरेंद्र मोदी ने दूसरी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ ली। पीएम मोदी के साथ उनकी सरकार में 57 मंत्रियों ने भी शपथ ली। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने प्रधानमंत्री और उनके मंत्रियों को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई। मंत्रियों के पदों का बंटवारा हो चुका हैं। पूर्व विदेश सचिव जयशंकर को विदेश मंत्री बनाए जाने पर मीडिया और राजनितिक विद्वानों ने मोदी की खूब तारीफ की। क्योंकि जिस क्षेत्र का पदभार उन्हें सौंपा गया है उसका अनुभव उनके पास पहले से ही है। नए विदेश मंत्री के रूप में कार्यभार संभालने के बाद जयशंकर ने कहा कि उन्हें सुषमा स्वराज के नक्शेकदम पर चलने में गर्व है। उन्होंने ट्वीटर पर अपना पहला ट्वीट करते हुए लिखा है कि “मेरा पहला ट्वीट। शुभकामनाओं के लिए आप सभी का धन्यवाद! इस जिम्मेदारी से मैं सम्मानित महसूस कर रहा हूँ। सुषमा स्वराज जी के नक्शेकदम पर चलने का गर्व हैं”।

1977-बैच के आईएफएस अधिकारी जयशंकर सुषमा स्वराज के विदेश मंत्री रहते 2015-2018 तक विदेश सचिव के रूप में कार्य किया था।

मोदी के पिछले कार्यकाल में विदेश मंत्री रहीं सुषमा स्वराज ने 2019 लोकसभा चुनाव न लड़ने का ऐलान किया था। उन्होंने स्वास्थ्य कारणों का हवाला दिया था। इस बार वो चुनाव नहीं लड़ी और न ही मंत्रिपद के लिए शपथ लिया। विदेश मंत्री रहते सुषमा स्वराज ने विदेश में फंसे भारतीयों को सुरक्षित देश लाने में काफी काम कर चुकी हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उनके इस प्रयास की तारीफ कर चुके हैं।

The post सुषमा स्वराज जी के नक्शेकदम पर चलने का गर्व है : जयशंकर appeared first on Live India.